Sunday, September 01, 2013

आरक्षण के वर्तमान स्वरूप के संदर्भ में किया वैचारिक मंथन

महाराणा प्रताप ऑडिटोरियम में विप्र फाउंडेशन की ओर से हुई सेमिनार में पाराशर नारायण ने ब्राह्मण नेताओं से किया युवाओं को चुनाव लड़वाने का आह्वान
जयपुर। विप्र फाउंडेशन की ओर से रविवार को आरक्षण के वर्तमान स्वरूप के संदर्भ में वैचारिक मंथन पर सेमिनार हुई। जेएलएन मार्ग पर महाराणा प्रताप ऑडिटोरियम में हुई सेमिनार में मुख्य वक्ता समता आंदोलन के अध्यक्ष पाराशर नारायण ने आरक्षण की समस्या का समाधान ब्राह्मणों का सौ प्रतिशत मतदान होने पर ही हो सकता है। उन्होंने ब्राह्मण नेताओं से आह्वान किया कि स्वयं चुनाव लडऩे के बजाय ब्राह्मण युवाओं को चुनाव लड़वाना चाहिए, ताकि आगामी पीढ़ी राजनीतिक रूप से सुदृढ़ हो सके।
 आरक्षण बचाओ मंच दिल्ली के राष्ट्रीय अध्यक्ष कौशल कांत मिश्रा ने कहा कि इतने बड़े संवैधानिक पदों पर आसीन होने के बावजूद न्यायाधिपति के आगे दलित न्यायाधिपति लगाना गलत है। वे समान नागरिक हैं, बार कौंसिल के चेयरमैन संजय शर्मा ने कहा कि सरकार यह बताए कि आरक्षित वर्ग में जिन लोगों को नौकरियां दी गईं, उनमें से कितने लोग आईएएस और आरएएस हैं। इनमें अधिकारियों के बच्चे क्रीमीलेयर में आने के बाद आरक्षित वर्ग से बाहर किए गए हैं। हमें कानूनी व विधायिका स्तर और आंदोलन के माध्यम से चरणबद्ध आंदोलन का रास्ता अपनाना होगा। राजस्थान यूनिवर्सिटी में संस्कृत विभाग के डीन प्रोफेसर विनोद शास्त्री ने शैक्षिक आरक्षण पर जोर दिया। शैक्षणिक आरक्षण की व्यवस्था ठीक हो। यदि शिक्षा का अधिकार सभी का है, तो सरकारी स्कूल-कॉलेजों में इस प्रकार की व्यवस्था खड़ी करनी चाहिए, ताकि आरक्षण व्यवस्था के कारण प्रतिभाशाली विद्यार्थी पढऩे से वंचित नहीं हो।
 फाउंडेशन अध्यक्ष अनुराग शर्मा ने बताया कि संस्था देशभर में विप्र जयघोष के कार्यक्रमों के माध्यमों से इस प्रकार का विचार मंथन कर आरक्षण के खिलाफ अलख जगाने का काम कर रही है। इस मौके पर कार्यकारी प्रदेशाध्यक्ष मुकेश दाधीच ने बताया कि आरक्षण के आंदोलन को दो प्रकार से चलाया जाएगा। पहला शैक्षिक आरक्षण। जितनी सीटें रिजर्व कैटेगरी से जनरल कैटेगरी में आती हैं, उतनी ही सीटें सरकार जनरल कैटेगरी की बढ़ाए। दूसरा प्रतियोगी परीक्षाओं में समान फीस लागू कराना। जिलाध्यक्ष राघव शर्मा ने स्वागत भाषण दिया। प्रदेश महामंत्री विनोद अमन ने धन्यवाद दिया। मंच संचालन प्रवक्ता लक्ष्मीकांत पारीक व जिला महामंत्री राजेश कर्नल ने किया। कार्यक्रम में राष्ट्रीय मंत्री भरत तिवारी व पवन पारीक सहित अन्य कई लोगों ने संबोधित किया।

No comments:

Post a Comment