Thursday, December 13, 2012

डॉ. विवेक शर्मा ने दिया गांधी की बुनियादी शिक्षा पर लेक्चर


जयपुर . राष्ट्रीय गांधी संग्रहालय राजघाट, नई दिल्ली की ओर से गांधी की बुनियादी शिक्षा पर एक राष्ट्रीय संगोष्ठी दिनांक 9 दिसम्बर, 2012 को आयोजित की गई। इसमें जयपुर के चाईल्ड स्पेशलिस्ट डॉ. विवेक शर्मा को गेस्ट लेक्चर के लिये आमंत्रित किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता मनोरमा मलयालम की संपादक ने की। विशिष्ट अतिथि के रूप में भूतपूर्व केन्द्रीय शिक्षा मंत्री श्री डी.पी. यादव मौजूद थे। डॉ. विवेक ने गांधी की बुनियादी शिक्षा का लर्निंग समस्याओं से ग्रसित बच्चों में एक बड़ा रोल बताया। उन्होंने कहा कि मातृभाषा में शिक्षा, हेण्डीक्राफ्ट्स एवं सामाजिक रहन-सहन में सुधार इन बच्चों में काफी उपयोगी सिद्ध होते हैं। डॉ. शर्मा ने इन बच्चों में प्रेक्टीकल ट्रेनिंग पर ज्यादा जोर दिया। उन्होंने कहा कि इन बच्चों में प्रेक्टीकल ट्रेनिंग बाल्यकाल में ही नहीं अपितु उच्च शिक्षा में भी जारी रहनी चाहिए। डॉ. शर्मा ने बताया कि अब समय आ गया है कि अभिभावकों एवं शिक्षकों को बच्चों की अंकतालिका से उपर उठकर उनकी काबलियत एवं व्यक्तित्व के विकास पर ध्यान देना चाहिए। स्कूल शिक्षकों को बच्चों की गुणवत्ता एवं सोच पर ध्यान देना चाहिये।
कार्यक्रम के अंत में गांधी संग्रहालय के निदेशक श्री संगीता मलिक ने इस लेक्चर की सराहना करते हुए गांधी की बुनियादी शिक्षा का आज के युग में उपयोगिता बढ़ाने में टेक्नोक्रेट्स का बड़ा योगदान बताया।
 
ब्राह्मण पत्रिका की तरफ से डॉ. विवेक शर्मा  (+91-9829062347) को बधाई।

No comments:

Post a Comment