Wednesday, February 08, 2012

माघ पूर्णिमा पर उमड़ा श्रद्धालुओं का सैलाब

कैलादेवी. पूर्णमासी के अवसर पर कैला मां के दर्शनों के लिए
अपनी बारी का इंतजार करते श्रद्धालु।

करौली . माघ पूर्णिमा के अवसर पर 7 फरवरी, 2012 को राज राजेश्वरी कैला मां के दरबार में श्रद्धालुओं का भारी जन सैलाब उमड़ा। मैया के दर्शनों के लिए मंदिर में दिनभर श्रद्धालुओं की लंबी कतार रही वहीं हजारों श्रद्धालुओं ने कालीसिल में डुबकी लगाकर मैया के दरबार में मनौती के लिए ढोक लगाई। मंगलवार को माघ पूर्णिमा होने के कारण बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं के साथ ही क्षेत्र के आस पास के गांवों से श्रद्धालुओं के जत्थे लांगुरिया गीत गाते हुए दर्शनों के लिए पहुंचे। पूर्णिमा होने से मंदिर व कालीसिल घाट पर श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा तथा वाहनों की रेलमपेल से कस्बे में भीड़भाड़ अधिक रही। श्रद्धालुओं ने मत्था टेककर मनौती मांगी वहीं जिनकी मनौती पूर्ण हो गई उन्होंने भंडारा व प्रसादी का आयोजन किया। इस दौरान महिला श्रद्धालुओं ने सौंदर्य प्रसाधन के साथ ही मैया के आशीर्वाद के रूप में मांग का सिंदूर खरीदा और बच्चों ने खेल खिलौने की सामग्री खरीदी। श्रद्धालुओं की आवक से बाजार में चहल पहल रही। इसी प्रकार खोहरी वाली बीजासन माता के दरबार में भी दिनभर श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। कैला मैया के दर्शनार्थियों ने पूर्णिमा के अवसर पर करौली में आराध्यदेव मदनमोहनजी के मंदिर में भी लौटते समय दर्शन किए।

No comments:

Post a Comment