Friday, December 09, 2011

साहित्यकार मुरारीलाल चतुर्वेदी का निधन

हिंडौन सिटी . चौबे पाड़ा निवासी वरिष्ठ साहित्यकार एवं चिंतक मुरारीलाल चतुर्वेदी का 8 दिसंबर, 2011 को सुबह निधन हो गया। उनके निधन पर शहर के निवासी साहित्यकार, पत्रकार एवं प्रमुख लोगों ने गहरा शोक व्यक्त किया है। 79 वर्षीय चतुर्वेदी ने कई पुस्तकें लिखीं, जिनमें प्रमुख रूप से पौराणिक हिंडौन, जगसौन्दरा रतनावली, पर काव्य संग्रह धूमिल सपने, कविता संग्रह कहां गए वे लोग, कहानी संग्रह पत्थर की काया, नाटक संग्रह आदि कई प्रमुख हंै। 1953 से वे आकाशवाणी जयपुर से जुड़े रहे। उन्होंने रंगमंच पर भी ताज के आंसू और क्षमा का अनुदान जैसे नाटक प्रस्तुत किए। हिंडौन विकास परिषद के महामंत्री धीरेंद्र चौधरी ने बताया कि 9 दिसंबर को परिषद की ओर से ब्राह्मण धर्मशाला में श्रद्धांजलि सभा कर श्रद्धांजलि दी गई।
ब्राह्मण पत्रिका दिवंगत को श्रद्धांजलि अर्पित करती है।

No comments:

Post a Comment