Saturday, September 11, 2010

प्रथम पूज्य का जन्मोत्सव आज

गढ़ गणेश मंदिर की बुर्ज पर धर्मध्वजा फहराकर महोत्सव का शुभारंभ किया।
मोती डूंगरी गणेश मंदिर में सिंजारे और मेहंदी की झांकी सजाई गई।
गणेश चतुर्थी शनिवार को मनाई जाएगी। राजस्थान ज्योतिष परिषद के महासचिव डॉ. विनोद शास्त्री के अनुसार पूजा के लिए पूरा दिन श्रेष्ठ है। आज हम गणपति जन्मोत्सव मनाएंगे। शहर के प्रमुख गणेश मंदिरों में मेला भरेगा। घरों के मुख्य द्वार पर हम गणाधिपति को सिंदूर चढ़ाकर पूजा-अर्चना कर मंगल कामनाएं करेंगे। मोतीडूंगरी गणेश मंदिर से रविवार दोपहर को भव्य शोभायात्रा निकलेगी, जो मध्यरात्रि बाद गढ़ गणेश मंदिर पहुंचेगी। महोत्सव के लिए मंदिरों के साथ पुलिस- प्रशासन ने भी व्यवस्थाएं कर ली हैं।
श्रेष्ठ मुहूर्त
शुभ का चौघडिय़ा सुबह 7:46 से  9:19 बजे। चर, लाभ व अमृत का चौघडिय़ा दोपहर 12:23 से शाम 5 बजे तक, दोपहर 12:22 से 12:26 बजे तक वृश्चिक लग्न में पूजन नहीं करना चाहिए। दोपहर 12 से 12:48 बजे तक अभिजित मुहूर्त में भी पूजन कर सकते है।
मोतीडूंगरी मंदिर में
2:45 बजे (शुक्रवार मध्यरात्रि बाद) मंगला आरती के साथ मोतीडूंगरी गणेशजी मंदिर में दर्शनों का क्रम शुरू हो गया।
1:00 बजे (दोपहर) शृंगार
3:30 बजे राजभोग आरती
3:45 बजे जन्मोत्सव पूजन
7:00 बजे संध्या तथा
11:30 बजे शयन आरती होगी।
गढ़ गणेश मंदिर में
ध्वजा फहराने के साथ तीन दिवसीय महोत्सव आरंभ हुआ। शनिवार को तड़के मंगला आरती के बाद गणपति का जन्माभिषेक कर चोला चढ़ाया जाएगा। शुक्रवार शाम से ही गेटोर छतरियों के बाहर चौक में मेला शुरू हो गया, जो रविवार को मोतीडूंगरी गणेशजी की शोभायात्रा के पहुंचने तक रहेगा। शनिवार-रविवार को दर्शन दिनभर खुले रहेंगे। शृंगार व भोग के समय ओट रहेगी।
ये रहेगी यातायात व्यवस्था
मोतीडूंगरी मेले को ध्यान में रखते हुए यातायात की विशेष व्यवस्था रहेगी।
जेडीए सर्किल से त्रिमूर्ति सर्किल के बीच शुक्रवार रात 12 बजे से रविवार रात 2 बजे तक यातायात डाइवर्ट किया जाएगा। गांधी सर्किल से आने वाली मिनी बसें यूनिवर्सिटी मार्ग से टोंक रोड पर डाइवर्ट की जाएंगी। तड़के 4 से रात 2 बजे तक त्रिमूर्ति सर्किल से जेडीए सर्किल के बीच पार्किंग नहीं होगी।
टोंक रोड से तख्तेशाही रोड पर वाहनों का प्रवेश निषेध रहेगा। इधर से आने वाले दर्शनार्थी टोंक रोड पर बनाई गई पार्किंग में ही वाहन खड़े करेंगे।
जवाहर नगर व गांधी सर्किल की ओर से आने वाले वाहन जेडीए सर्किल से आगे नहीं जाएंगे। इनकी पार्किंग जेडीए सर्किल से यूनिवर्सिटी के बीच साइकिल ट्रैक पर की जाएगी।
गोविंद मार्ग से आने वाले वाहनों की पार्किंग धर्मसिंह सर्किल मोतीडंूगरी रोड पर की जाएगी। दर्शनार्थी वहां से पैदल ही आ सकेंगे। इसी प्रकार भाभा मार्ग से आने वाले दर्शनार्थी अपने वाहनों को निश्चित पार्किंग स्थल पर ही पार्क करके पैदल जा सकेंगे। जवाहर नगर की तरफ आने व जाने वाले वाहन रामबाग सर्किल से जेडीए सर्किल होकर आ व जा सकेंगे। इस मार्ग पर किसी प्रकार की पार्किंग नहीं होगी।
दिल्ली-आगरा से आने वाली रोडवेज की बसें टीपी नगर से जवाहर नगर बाईपास, झालाना तिराहा, गांधी सर्किल, गांधी नगर मोड़, लक्ष्मीमंदिर, सहकार मार्ग, बाईस गोदाम, चौमूं हाउस सर्किल, गवर्नमेंट प्रेस, गवर्नमेंट हॉस्टल होकर सिंधीकैंप बस स्टैंड से दिल्ली व आगरा की तरफ जाने वाली रोडवेज की बसें गवर्नमेंट हॉस्टल, गवर्नमेंट प्रेस, चौमूं हाउस, 22 गोदाम, सहकार मार्ग, लक्ष्मी मंदिर, गांधी नगर मोड़, गांधी सर्किल, झालाना तिराहा, जवाहर नगर बाईपास होकर दिल्ली व आगरा की तरफ जा सकेंगी।

No comments:

Post a Comment