Wednesday, August 04, 2010

नीलमणी महोत्सव शुरू

जयपुर. पानों का दरीबा के सरस निकुंज में शुकसंप्रदाचार्य अलबेली माधुरीशरण महाराज के सान्निध्य में 3 अगस्त 2010 (मंगलवार) से दादा गुरुदेव नीलमणी का जयंती महोत्सव शुरू हुआ। इसके साथ ही भक्तिसागर पाठों का सामूहिक गायन हुआ। प्रवक्ता प्रवीण बड़े भैया ने बताया कि आठ दिवसीय महोत्सव के तहत प्रतिदिन संगीतमय भक्तिसागर पाठों का सामूहिक गायन होगा। बधाई महोत्सव 10 अगस्त को मनाया जाएगा। इसी क्रम में 12 अगस्त को झूला महोत्सव भी मनाया जाएगा।

No comments:

Post a Comment