Thursday, July 01, 2010

एसएमएस हॉस्पिटल के नए अधीक्षक डॉ. एल.सी. शर्मा ने पदभार संभाला


डॉ. एल.सी. शर्मा 
जयपुर. एसएमएस हॉस्पिटल के नए अधीक्षक डॉ. एल.सी. शर्मा ने 30 जून को पदभार ग्रहण कर लिया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि हॉस्पिटल में आने वाले पेशेंट को जहां तुरंत इलाज की जरूरत होती है, वहीं उसके परिजनों उम्मीद करते हैं एक ऐसे व्यवहार की जिससे उनका आत्मविश्वास बना रहे। एसएमएस हॉस्पिटल की ट्रीटमेंट के संबंध में सबसे बड़ी प्राथमिकता पेशेंट और उसके परिवारजनों के साथ बिहेवियर कल्चर स्थापित करना होगी। एसएमएस परिवार को साथ लेकर पेशेंट्स को सुलभ इलाज मुहैया करवाना और इमरजेंसी सेवाओं को बेहतर बनाना प्रमुख उद्देश्य रहेगा। शर्मा का कहना है कि समस्याएं कम से कम हों इसका भी ध्यान रखा जाएगा। हर जगह अच्छे की गुंजाइश होती है, लेकिन समझने में वक्त लगता है। प्रमुखता से जूनियर सीनियर्स को पेशेंट्स के साथ रेगुलर बातचीत और अच्छे व्यवहार का माहौल बनाने की कोशिश करनी होगी। वर्ष 1986 में खुद जब इसी कॉलेज से पढ़ाई कर रहे थे तब इतनी सुविधाएं नहीं थीं। शर्मा के अनुसार, लोगों की एसएमएस की साख पर विश्वसनीयता बढ़ रही है। मेडिसन सुपरस्पेशलिटीज बढऩे लगी हैं। हालांकि पेशेंट्स की संख्या ज्यादा होने पर कई बार मैनेजमेंट में परेशानी होती है। शर्मा के अनुसार उनके परिवार में ज्यादातर मैम्बर या तो डॉक्टर हैं या डॉक्टर बनने की राह पर हैं। पत्नी डॉ. मंजू शर्मा गायनी विभाग में एसोसिएट प्रोफेसर हैं तो बेटी एनेस्थीसिया में एमडी कर रही हैं, वहीं बेटा एमबीबीएस फाइनल ईयर में हैं। वे बताते हैं, वाइफ बच्चों को न केवल एक डॉक्टर बल्कि गाइड की तरह समझाती हैं। परिवार के मेडिकल फील्ड की तरफ बढ़ते रुझान को देखकर अच्छा लगता है।
ब्राह्मण पत्रिका की ओर से हार्दिक बधाई।

1 comment: