Wednesday, March 24, 2010

शिवालयों में पानी संरक्षण की मुहिम में जुटे है ज्योतिषाचार्य पं. पुरूषोत्तम गौड़

ज्योतिषाचार्य पं. पुरूषोत्तम गौड़ (उपरेडा वाले)।
अब तक 1300 मंदिरों में बनाया वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम
जयपुर शहर में ऐसे लोग भी है, जो पानी बचाने की मुहिम में जुटकर मिसाल कायम कर रहे है। इन्हीं में से एक हैं स्वेज फार्म निवासी ज्योतिषाचार्य पं. पुरूषोत्तम गौड़ (उपरेडा वाले)। गौड़ पिछले नौ साल से शिवालयों में पानी की बूंद बूंद को वापस जमीन तक पहुंचाने की पहल कर रहे है। वे अब तक जयपुर के छोटे बड़े 500 शिव मंदिरों समेत कुल 1300 मंदिरों में वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बनवा चुके हैं। गौड़ को 2008 में राज्य सरकार द्वारा जल संरक्षण के लिए सम्मानित भी किया जा चुका है। गौड़ बताते हैं कि शिवालयों में रोजाना हजारों लीटर पानी बर्बाद होकर कीचड़ बन जाता है। यह किसी के काम नहीं आता। उन्होंने इस पानी को बचाने के लिए शिवालयों में 2001 में वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बनवाने का काम शुरू किया था। तब से लगातार इस काम में जुटे हुए हैं। गौड़ चाहते हैं कि राजभवन, मुख्यमंत्री निवास और सरकारी परिसरों में बने शिव मंदिर भी उनकी इस मुहिम का हिस्सा बने। इसके लिए वे सरकार से बार बार संपर्क कर रहे हैं।
ब्राह्मन पत्रिका की ओर से पंडित जी को बहुत-बहुत बधाई।

No comments:

Post a Comment